Click me
Transcript

India's Mars Mission - Mangalyaan

भारत का मंगल अमियान : मंगल प्रक्षेपण के बाद मंगलयान 4 हंफ्ते तक धरती की परिक्रमा करता रहेगा। इस दौरान यह क्रमशः ऊंचे ऑर्बिट में प्रवेश करता जाएगा। 1) 3) C25 धरती मंगल की अंडाकार कक्षा में मंगलयान करीब 6 महीने रहेगा। मंगल से इसकी दूरी 377 से 80,000 किलोमीटर तक रहेगी। इसे डि धरती की कक्षा छोड़ने के बाद मंगलयान 300 दिनों तक मंगल की ओर बढ़ता रहेगा और सितम्बर 2014 में मंगल की कक्षा में पहुंचेगा। मंगलयान प्रक्षेपण तिथि : 5 नवम्बर 2013 मीडियम-गेन एंटीना हाई-गेन एंटीना समय : अपराह 2.36 बजे स्थल : श्रीहरिकोटा यान : पीएसएलवी-सी 25 लागत : 450 करोड़ रुपये ईंधन टैंक परीक्षणउपकरण लैप फोटोमीटर मीथेन सेंसर मास स्पेक्ट्रोमीटर मार्स कलर कैमरा इमेजिंग स्पेक्ट्रोमीटर सोलर पैनल पीएसएलवी - सी25 प्रदर्शन। इसरो के वैज्ञानिक गहन अंतरिक्ष में संचार की अपनी कारबिलियत को परख सकेंगे। उन्हें स्वचालित आपात उपायों को जांचने का मौका भी मिल सकता है। इन्फ़ोलिम्नर -NDIA INDIA -NDIA

India's Mars Mission - Mangalyaan

shared by infolimner on Oct 25
2,311 views
0 shares
2 comments
India ready to launch Mangalyaan, under its first interplanetary mission Marst Orbiter Mission (MOM).

Tags

mars

Category

Science
Did you work on this visual? Claim credit!

Get a Quote

Embed Code

For hosted site:

Click the code to copy

For wordpress.com:

Click the code to copy
Customize size